Minarets Being Removed from Mosque in China चीन में मस्जिद से हटाई जा रही मीनारें

Why are the domes and minarets being removed from the mosque?
Minarets being removed from the mosque

चीन में मस्जिद से गुंबद और मीनारें क्यों हटाई जा रही हैं? Why are the domes and minarets being removed from the mosque?

Minarets being removed from mosque in China : चीन मे अपने ही एक राज्य के अंदर अल्पसंख्यकों पर इन दिनों काफी अत्याचार हो रहे हैं। दुनिया के अंदर चीन की उइगुर-मुस्लिम के ऊपर काफी अत्याचारों को लेकर चर्चाएं होती रहती है। अब उइगुर-मुस्लिमों के बाद चीन में हुई- मुस्लिमों की आबादी को लेकर चीन के द्वारा उनको निशाना बनाया जा रहा है।

चीन के किस राज्य में हुई-मुस्लिमों पर अत्याचार हो रहे हैं?

चीन अपने यहां पर बनी 700 वर्ष पुरानी डोंगुआन मस्जिदों के गुंबद और मीनारों को हटा दिया है। और वहां बिना गुंबद और मीनारों वाली मस्जिद बनाई गई है। चीन द्वारा हटाई गई इन गुंबद और मस्जिदों को चाइनीजी करण ( Sinicization ) – प्रक्रिया के अंतर्गत हटाया जा रहा है। चीन जनसंख्या की दृष्टि से दुनिया का सबसे बड़ा देश है। चीन के शिंजियांग प्रांत पहले ही उइगुर मुस्लिमों के अत्याचारों के लिए जाना जाता है।

चीन जिस तरह से उइगुर मुस्लिमों के ऊपर अत्याचार कर रहा है यह बात दुनिया में कहीं छिपी नहीं हुई है। उइगुर मुस्लिमों के बाद अब चीन में हुई-मुस्लिमों के ऊपर अत्याचार हो रहे हैं। चीन किंघाई राज्य की राजधानी जीनिंग में हुई-मुस्लिम रहते हैं।

जिनकी आबादी लगभग 1.25 करोड़ है। किंघाई के मुस्लिमों को इससे पहले कोई परेशानी नहीं हो रही थी क्योंकि वह चाइनीज रीति-रिवाजों को ही मानते आ रहे हैं। वहां के मुस्लिम चाइनीज बोलते और चाइनीज दीखते हैं।

चीन में हुई-मुस्लिमों से किस बात का डर है?

चीन की सरकार द्वारा किंघाई की राजधानी जीनिंग में जो मस्जिदो के ऊपर गुंबद और मीनारें बनी हुई थी उससे उन्हें लगा कि चीन में अरब स्थापत्य कला का विकास हो रहा है जो चाइनीस सभ्यता के खिलाफ है। चाइनीज सभ्यता के खिलाफ होने के कारण ही इन मस्जिदों के मीनारों और गुंबद को हटा दिया गया है।

डोंगुआन मस्जिद के गुंबद और मीनारे किंघाई की राजधानी जीनिंग की पहचान हुआ करती थी। वह अब चाइना की सरकार द्वारा हटा दिया गया है। इस समय यह कहा जा रहा है कि जिस प्रकार चीन की कम्युनिस्ट पार्टी का हॉल होता है उसी प्रकार से डिजाइन करके मस्जिद बनाया गया है।

चीन की सरकार ने (Sinicization) प्रक्रिया पर क्या जवाब दिया है?

चीन की सरकार से जब इस बात को लेकर पूछा जाता है तो सरकार जवाब देती है कि हम ऐसा इसलिए कर रहे हैं क्योंकि हम चाइनीज आईडियोलॉजी को आगे बढ़ा रहे हैं। और हम किसी भी धर्म के खिलाफ नहीं है बल्कि ऐसी संस्कृति के खिलाफ है जो किसी धर्म की आगे ले जा रही हो। यहां पर हम सिर्फ चाइनीज संस्कृति को ही आगे बढ़ने के लिए काम कर रहे है। इसी प्रक्रिया को (Sinicization) प्रक्रिया नाम दिया गया है।

चीन में चाइनीज संस्कृति को नहीं मानने वाले लोगो के साथ क्या किया जाता है?

अगर चीन की सरकार का कोई भी व्यक्ति बात नहीं मानता है तो उसे ऐसे कैंप में भेज दिया जाता है जहां पर उसे प्रताड़ना के माध्यम से सुधारने का काम किया जाता है। चीन की इस प्रक्रिया से हुई-मुस्लिम डरे हुए है। इसी प्रकार की हुई-मुस्लिम पर एक और घटना सन 2018 में हुई थी।

उस समय चीन की सरकार ने कई मस्जिदों को यह कह कर बंद कर दिया था कि यह लोग कानून का उल्लंघन कर रहे हैं। ठीक इसी प्रकार एक और घटना चीन में हुई थी जो काफी निंदनीय थी। चीन की झिंजियांग प्रांत में एक मस्जिद को तोड़ कर पब्लिक टॉयलेट में कन्वर्ट कर दिया गया था।

चीन के अंदर मुस्लिमों पर हो रहे अत्याचारो के ऊपर दूसरे मुस्लिम देशों की क्या राय है?

चाइनीज अथॉरिटी सरकार के नेतृत्व में काम करती है और इन्हें चाइना का विकास कहती हैं। संस्कृति के नाम पर चीन के अंदर हो रही ये घटनाएं समानत: बहुत से लोगों को बोलने का मौका तक नहीं देती है। दुनिया में अगर कहीं पर इस प्रकार की घटना होती है तो बहुत सारे मुस्लिम देश इस घटनाओं के ऊपर अपनी राय देते हैं मगर चीन के अंदर हो रही इन घटनाओं पर दुनिया का कोई भी इस्लामिक देश कुछ भी नहीं बोल पाते है। जिससे यह स्पष्ट होता है कि चीन की आर्थिक नीतियों के आगे यह सभी इस्लामिक देश  कितने दबे हुए हैं।

चीन ने मुस्लिमों पर क्या प्रतिबंध लगाए हैं?

चीन किंघाई राज्य की राजधानी जीनिंग मे हुई-मुस्लिम जो चीन की आबादी 16% है उनकी पहचान को खत्म करने की कोशिश की जा रही है। इनके साथ साथ चाइना की कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा यह भी कहा गया है कि कोई अजान के समय लाउड स्पीकर नहीं बजा सकता है। साथ ही किसी मस्जिदों पर गुंबद और मीनारें नहीं बनी होनी चाहिए। जब उनसे पूछा जाता है कि आप लोग ऐसा क्यों कर रहे हैं तो उनका कहना होता है कि हम चाइनीजी करण को आगे बढ़ा रहे हैं जिसमें सभी लोग चाइनीज की तरह दिखने चाहिए।

चीन में हुई-मुसलमानों का क्या कहना है?

चीन के द्वारा किया जा रही यह प्रक्रिया बहुत ही शर्मिंदगी पूर्ण  है और धार्मिक स्वतंत्रता के लिए एक उल्लंघन भी है। चीन में उइगर-मुसलमानों के ऊपर हो रहे अत्याचारों को 43 देशों ने कहा है कि आप उनके अधिकारों का हनन कर रहे हैं। जब हुई-मुसलमानों से पूछा जाता है कि आप अपने ऊपर हो रहे अत्याचारों का विरोध क्यों नहीं करते हैं तो यह लोग यह कहते हैं कि जिस प्रकार उइगर-मुसलमानों को ऊपर जुल्म हो रहे हैं कहीं उसी प्रकार के जुल्म हम पर ना हो जाए इसलिए हम उनका विरोध नहीं करते हैं।

चीन ने किया ऐसा मिसाइल परीक्षण जिसको अमेरिका भी नहीं पकड़ सका !!

Why did Facebook change its name? फेसबुक ने अपना नाम क्यों बदला?

What is the dispute between Ukraine and Russia? यूक्रेन और रूस के बीच क्या विवाद है?

Online paise Kaise kamaye|Ghar se Paise kaise kamaye

What is DTP? ( Desk Top Publishing ) DTP का इतिहास, लाभ और उपयोग

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top