What is Dengue? Symptoms and Prevention of dengue

डेंगू क्या है? डेंगू कैसे फैलता है? डेंगू के लक्षण और बचाव

What is Dengue : इस समय डेंगू से उतना ही डर लग रहा है जितना डर कोरोना से लग रहा था। डेंगू का प्रकोप भारत में बढ़ता ही जा रहा है। जिससे लोगों की मरने की खबरें आ रही है। इस समय अस्पतालों में डेंगू के मरीजों से पूरा अस्पताल भरा पड़ा हुआ है यहां तक की कई अस्पताल में बेडो की कमी भी देखी जा रही है ।

What is Dengue
What is Dengue?

डेंगू क्या है ? What is Dengue?

What is Dengue : डेंगू एक वायरस जनित बिमारी है जो मादा एडीज इजिप्टी नामक मच्छर के कटने से फैलता है । डेंगू के दौरान हमारे शरीर में जो एंटीबॉडी बनते हैं ओ हमारे शरीर के अंदर मौजूद प्लेटलेट को ही खा जाते हैं। हमारे शरीर मे प्लेटलेट को कम करने का जो प्रमुख कारण है वह हमारे शरीर में बन रहा एंटीबॉडी है। स्वस्थ शरीर में प्लेटलेट की मात्रा 1.5 लाख से लेकर 4 लाख प्रतिघन मिलीलीटर के बीच होता है।

रक्त को थक्का बनाने के लिए क्या जरूरी है ?

हमारे ब्लड में 55% प्लाज्मा होता है और बाकी 45% कोशिकीय तत्व होते हैं। कोशिकीय तत्वों में RBC,WBC और प्लेटलेट्स होते हैं। WBC हमारे शरीर को रक्षा प्रदान करता हैं , RBC हमारे शरीर में ऑक्सीजन परिवहन का काम करता हैं और प्लेटलेट्स हमारे शरीर में रक्त को थक्का बनाने का काम करते हैं।

डेंगू में कौन सा अंग प्रभावित होता है?

डेंगू में प्लेटलेट्स की मात्रा कम हो जाती है प्लेटलेट्स ही हमारे शरीर में रक्त को थक्का बनाता है। डेंगू के जो गंभीर मरीज होते है कई बार उसके मसूड़ों और नाक से खून आने लगता है जो बंद नहीं हो पाता हैं क्योंकि उनके शरीर में प्लेटलेट्स की कमी हो जाती है जो प्लेटलेट्स रक्त को थक्का बना रहा था वह कम होने के कारण रक्त की थक्का नहीं बना पाता है।

डेंगू कैसे फैलता है?

डेंगू मादा एडीज इजिप्टी नाम मच्छर के कटने से फैलता है। यह वायरस मच्छर के अंदर ही होता है । मच्छर अपना भोजन परागकड़ से प्राप्त करता है। मच्छर रक्त चूसने के लिए इंसानी शरीर में आता है वह अपनी डंक से वायरस को मनुष्य के शरीर के अंदर पहुंचा देता है। मच्छर अपना भोजन परागकण प्राप्त करता हैं लेकिन प्रजनन करने के लिए उन्हें ब्लड की आवश्यकता होती है जिसकी पूर्ति के लिए वह इंसानी शरीर में से खून चूसते हैं और वायरस को शरीर में पहुंचा देते हैं।

डेंगू के क्या लक्षण होते हैं?

डेंगू बीमारी को हड्डी तोड़ बुखार भी कहा जाता है। क्या बीमारी होने के बाद हड्डियों में दर्द, पेट दर्द, उल्टी, मन का मिचलना, मांस पेशियों में सूजन, आंखों के पीछे दर्द और त्वचा पर लाल चकत्ते पड़ने लगते हैं।

डेंगू से बचने का क्या उपाय है?

डेंगू से बचने के लिए आपको अधिक मात्रा में जल की आवश्यकता होती है अर्थात तरल पदार्थों का सेवन अधिक से अधिक करना चाहिए जिसे आपका शरीर आसानी से पचा सके। अपने शरीर को ज्यादा मेहनत ना करने दें और बुखार का पता चलने पर आराम करें। तीन-चार दिन के अंदर इसका सर्कल पूरा हो जाता है और फिर से शरीर के अंदर प्लेटलेट्स बनना शुरू हो जाता है।

प्लेटलेट्स अगर 10 हजार से नीचे चली जाती है तो ऐसी स्थिति में दूसरी शरीर से आपके शरीर में ब्लड डालनी पड़ती है। ऐसी स्थिति में ब्लड ग्रुप मैच करना बहुत जरूरी होता है। प्लेटलेट्स डालने का मतलब शरीर के अंदर प्लेटलेट्स की मात्रा बढ़ाना होता है। 2 से 3 दिनो का ये जो सर्कल है इसे आप शरीर को ज्यादा काम करने के लिए मजबूर नहीं करना चाहिए और रेस्ट करना चाहिए। डॉक्टर के द्वारा दी गई निर्देशों का पालन करते रहना चहिए तभी आप एक स्वस्थ जीवन जी सकते हैं ।

What is CAA and NRC ? क्या है सीएए और एनआरसी पूरी जानकारी

Attack on temples in Bangladesh बांग्लादेश में मंदिरों पर हुआ हमला

United Nations Human Rights Council संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद क्या है?

What is UPI Pin in Hindi UPI पिन क्या होता है पूरी जानकारी हिंदी में

Top 10 Indian YouTubers 2021 Top Indian Youtubers Net Worth

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top